भारतीय संस्कृति की विविधता

6

Upload: kumar-yadav

Post on 13-Apr-2017

497 views

Category:

Education


2 download

TRANSCRIPT

Page 1: भारतीय संस्कृति की विविधता

संगणक आधारि�त अनुदेशन

Page 2: भारतीय संस्कृति की विविधता

भा�त में वि�भिभन्न धम� सम्प्रदाय जाती �ंश के लोग �हते है उनमे धार्मिम%क

तथा सांस्कृवितक वि�व्भि*भनता पाई जाती है वि-� भी सभी धम� सम्प्रदाय जाती के लोग एक साथ �हते है इसे ही भा�त की सांस्कृवितक वि�वि�धता कहा जाता है जैसे एक सुन्द� माला को बनाने के लिलए अनेक �ंग �ी�गे -ूलो की आ�श्कयता होती है जिजससे एक सुन्द� माला तैया� होती है उसी प्रका� भा�त भी वि�%भिभन् धम� जाती सम्प्रदाय के लोगो के एक साथ �हने के का�ण भा�त वि�वि�धता में एकता का प्रवितक माना जाता है

भा�त की सांस्कृवितक वि�वि�धता

Page 3: भारतीय संस्कृति की विविधता

भा�त यह हजा�ो �र्ष� पु�ाना देश है । औ� वि�वि�धता से परि�पूण है

भा�त में वि�भिभन्न धम� सम्प्रदाय जाती के लोग एक साथ मिमलक� �हते ह ै।

धम�

Page 4: भारतीय संस्कृति की विविधता

भा�त में अनेक भार्षा बोलने �ाले लोग है । विह%दी �ाष्ट्र भार्षा तथा म�ाठी �ाज्य भार्षा है ।

भा�त में वि�भिभन्न भार्षा

Page 5: भारतीय संस्कृति की विविधता

भा�त में वि�भिभन्न धम� के लोग �हते है �े अलग अलग धम� को मानते है । इश्लीए भा�त में वि�वि�ध त्योहा� मनाये जाते है ।

त्योहा�

Page 6: भारतीय संस्कृति की विविधता

भा�त के वि�भिभन्न �ाज्यों में अलग अलग �ेश भूर्षा तथा आहा� है ।

�ेश भूर्षा औ� आहा� भौगोलिलक �ाता��ण प� विनभ�� है ।

आहा� /�ेश भूर्षा